Total Pageviews

Tuesday, July 05, 2011


                   ( सूरत )
किसी ने हमे मुड़कर देखा भी नहीं
क्या तमन्ना लेकर हमने सूरत संवारी थी 


चरणदीप अजमानी, पिथौरा 9993861181
Ajm.charan@gmail.com
Ajmani61181.blogspot.com
 

No comments:

Post a Comment